Admission मंत्र तंत्र यन्त्र विज्ञानं विधालय

Admission मंत्र तंत्र यन्त्र विज्ञानं विधालय

मंत्र तंत्र यन्त्र विज्ञानं विधालय में प्रवेश के लिए

सभी साधक और साधिका को सूचित किया जाता है की आप सब के लिए MTYV Vishwa Vidyalaya whatApp ग्रुप बन गया है | एस ग्रुप का नाम है "शिव साधक परिवार "जहा पर साधना को सिखने का एक नवीन अवसर मिल सकता है बहुत से साधक और साधिका के अनुरोध पर ये किया जा रहा है , जो नए साधक उन को लाभ मिलेगा और पुरने साधक एस ग्रुप से जुड़ कर आपना ज्ञान, ध्यान और चिन्तन को बड़ा सकते है | जो साधको को साधना में सफलता नहीं मिल रहा है उन के लिए बहुत ही उपयोगी होगा और एक नए उत्साह से हम साधना को सिख कर आपने जीवन को आगे ले सकेगे | ये ग्रुप पैसे कमाने के लिए नहीं बनाया जा रहा है |जो पैसे आ रहे है उस से वेबसाइट का पोर्टल बन रहा है जिस में साधना की जानकारी और पीडीऍफ़ बुक या cd , गुरुदेव की रखने में लग रहा है | में सद्गुरु के प्रेरणा से ये सब करने का विचार कर रहा हूँ , ग्रुप मैं कुछ टीम वर्क होगा जो आप को सही से मार्ग दर्शन के साथ उचित सलाह दिया जा सकेगा जिस आप साधना में मिल रही असफलता को कम कर सकेगे और सद्गुरु के ज्ञान को बचने मैं सहयोग के साथ खुद भी नवीन चेतना धारण कर शिष्य बन सकेगे | शिष्य बनाना ही जीवन का उदेश्य होना चाहिए |


एस whatapp ग्रुप मैं ज्वाइन के लिए ईमेल करे या कॉल करे : आजमाने या कुतर्क करने के लिए फ़ोन या ईमेल नहीं करे ..........

जिस को लगता है कुच्छ सीखे वही फ़ोन या ईमेल करे
50 साधक ही आब ज्वाइन कर सकते है सीट फुल होने पर है

MTYV Vishwa Vidyalaya एक अद्ध्यत्मिक विश्व विधालय है जरुरी नहीं की UGC से बने |  UGC एक बहुत छोटा ज्ञान को बढानें का सेवा के लिए अनुमति देता है | जिस आप नोकरी कर सके और बिज़नस कर सके या समाज में केसे जिए बस उसी के चर्चा के लिए विश्व विधालय का अनुमति से कर ज्ञान प्रदान करवाता है |


शिष्य का अर्थ है निरंतर सिखने वाला  ....


सॉर्ट कट नहीं किसी भी चीज़ का तंत्र के क्षेत्र में फिर भी गुरु किरपा हो और अटूट प्रेम श्रद्धा विस्वास है सब संभव है ?
गुरु प्रेम नाम के हीरे मोती मैं बिखराऊ गली~ गली ,  है कोई गुरु चाहने वाला शोर मचाऊ गली~ गली '' लेकिन मेरी आवाज़ को कोई नहीं सुनता ,


गुरु और प्रेम की सारी विधियाँ , सारे नियम , सारे सिद्धांत , सारी साधना साधक की चेतना के विस्तार के लिए है ! साधना का एक अर्थ चेतना का विस्तार भी है जब तक साधक मूर्छा ( अज्ञानी ) में है तब तक उसकी चेतना का विस्तार संभव नहीं है ! गुरु के सारे उपक्रम इसी मूर्छा को दूर करने के लिए हैं ! गुरु दीक्षा द्वारा शक्तिपात के द्वारा ,साधना के द्वारा कुंडलिनी जागरण के द्वारा दूर करने का प्रयत्न करता है ! साधक को अज्ञान से बाहर निकलता है ! सचमुच गुरु और प्रेम बड़ा ही अद्भुत शास्त्र है ! जितना सीखो उतना कम है ! प्रत्येक साधक यह सोचता है विचारों का संग्रह ही ज्ञान है ! पुस्तकों में हम जो कुछ भी पड़ते हैं वह सब दूसरों के विचार हैं ,ज्ञान नहीं, विचारों के संग्रह से हम कभी भी ज्ञान को प्राप्त नहीं कर सकते हैं ! ज्ञान आता है मिलकर बैठने से , ज्ञान आता है आत्मा से , ज्ञान आता है गुरु के वचनों से , ज्ञान आता है स्तरिये पुस्तकों से ,स्मरण रखें ज्ञान हमारी संपत्ति है और विचार दूसरों की सम्पति है !ज्ञान वास्तव मैं आत्मा की ऊर्जा है ! पुरुष कहो या साधक कहो के शरीर मैं श्वेत बिंदु के रूप में शिव और स्त्री कहो साधिका कहो या भैरवी कहो के शरीर में रक्त बिंदु के रूप मैं शक्ति का निवास है ! आपको यह जानकार बेहद आश्चर्य होगा कि बिंदु साधना का ही दूसरा नाम कुंडलिनी साधना है ! दोनों की जड़ में एक ही सिद्धांत , एक ही नियम और एक ही लक्ष्य है ! जैसे वैदिक युग में बिंदु साधना का प्रभाव था ठीक उसी प्रकार तंत्र युग में कुण्डलिनी साधना का प्रभाव था !जब भी गुरु कहीं लेकर चलते हैं ,या किसी गोपनीय साधना के लिए बुलाते हैं तो साधक को यही कहना चाहिए ~ गुरुवर आप बुलाएँ हम ना आयें ऐसे तो हालात ( स्थिती ) नहीं ! कभी न कभी सफल हो जाओगे ...........

ये ग्रुप 9999 रुपया रुपया प्रति वर्ष लगेगा जो आप साधना के सरे विकल्प को ध्यान से सिखने और करने अवसर देगा | जो की उसे प्रति दिन सिखने का अवसर मिलेगा ...यह  विश्व विद्यालय आप को साधना में उच्चा स्थान प्रदान करने के लिए बनाया गया है|  ये साधना आप के आपने लिए होगा जो भोतिक और अध्यात्मिक ज्ञान के क्षेत्र में सफलता मिल सके और हम सिद्धास्रम जा सके |


जिसे सफलता का और असफलता का अंतर पता है और जो भुतक्भोगी है | में उन की सहायता करना चाहता हूँ जो साधक एस ग्रुप से जुड़ना चाहते है | आप एस  विद्यालय  में प्रवेश ले कर के अध्यन करे |

ग्रुप और कुछ नियम।

साधक /साधिका  जैसा की हम अपनी पिछली पोस्ट में बता चुके है , की एक नविन विद्यालय  ग्रुप का निर्माण हो रहा है। जो पूर्ण रूप से गोपनीय होगा। उससे सम्बंधित नियम यहाँ दिए जा रहे है। ध्यानपूर्वक अध्ययन करे।



१.विद्यालय   ग्रुप निशुल्क नहीं है अतः इसकी वार्षिक सदस्यता ( १२ महीने ) की 1250 रूपये रखी गयी है. किसी भी स्थिति में निशुल्क प्रवेश संभव नहीं है। अतः इसके हेतु आवेदन ना करे. यदि आप नेट चला सकते है तो वार्षिक सदस्यता भी ले सकते है। अतः ग्रुप में निशुल्क प्रवेश हेतु कोई आवेदन स्वीकार नहीं है।


२. ग्रुप के प्रत्येक सदस्य को एक सदस्यता क्रमांक दिया जायेगा ,जो की उनकी सदस्यता का प्रमाण होगा।


३. आपकी सदस्यता का एक वर्ष पूर्ण होते ही ,आपको मैसेज,मेल आदि के माध्यम से सूचित किया जायेगा ,ताकि आप समय रहते सदस्यता का नवीनीकरण करवा सके। समय पर नवीनीकरण नहीं करवाने पर ग्रुप से उस सदस्य को हटा दिया जायेगा।


४. हर किसी व्यक्ति को इस ग्रुप में प्रवेश नहीं दिया जायेगा। प्रवेश देने के पहले यह देखा जायेगा की आपका हमारे इस रूप में किस तरह का व्यव्हार रहा है। अतः धैर्यवान साधको को ही ग्रुप में प्रवेश दिया जायेगा।


५. ग्रुप की किसी भी पोस्ट को शेयर करना , कॉपी कर कही और पेस्ट करने पर आपको तुरंत ग्रुप से हटा दिया जायेगा। अतः इस नियम का सख्ती से पालन होगा।


६. ग्रुप में गोपनीय विषयों पर चर्चा होगी परन्तु कोई तर्क कुतर्क स्वीकार नहीं होगा। जिज्ञासुओं के लिये सदा हम प्रयत्नशील रहे है। परन्तु शंकालु लोगो के लिए ग्रुप में कोई स्थान नहीं होगा।


७. फेक आई डी बनाकर ग्रुप में प्रवेश करने की चेष्टा ना करे ,क्युकी समय समय पर ग्रुप के सदस्यों के सदस्यों से उनके सही होने का प्रमाण माँगा जायेगा। और ना दे पाने पर ग्रुप से बाहर कर दिया जायेगा। अतः फेक आई डी से प्रवेश करने का प्रयत्न ना करे , अन्यथा आपका पैसा ही व्यर्थ होगा।


८. धन जमा करा देने का यह अर्थ कदापि भी ना निकाले की हमें खरीद लिया गया है। अतः जिस विषय पर ग्रुप में चर्चा होगी आप उस विषय पर अपना ज्ञान वर्धन कीजियेगा। अन्य विषयो के लिए हठ करना व्यर्थ होगा क्युकी तंत्र पूर्णता का नाम है न की चमत्कार का। आप खुद चमत्कारी बने जिस से आप का ज्ञान मिल सके |


विद्यालय  का निर्माण हो गया है २१ अप्रैल से क्लास सुरु किया गया है  और किस प्रकार आप इसमें प्रवेश ले पाएंगे इसकी जानकारी  के लिए आप हमें । शीघ्र ही इस मंत्र तंत्र यन्त्र विज्ञानं विधालय के नविन ग्रुप में तंत्र के उन दिव्य विषयों पर चर्चा होगी जो आप जानते तो है पर आपने ने उन को कर के देखा नहीं  वो साधना जो अब तक दृष्टि से ओझल रहे है।

किरपय अगर DELHI से अगर बहार , या DELHI में अगर पैसे जमा करा रहे है तो नेट बैंकिंग से पैसे जमा कराये जिस बैंक का ट्रांसफर चार्ज नहीं लगे , हमारा मुक्त में बैंक वाले 50,100 रूपए ले लेते है  |पैसे जमा कर हमें ईमेल करे hirendra1@gmail.com pay in slip ka print screenshot ले कर जिस हम आप को  मंत्र तंत्र यन्त्र विज्ञानं विधालय ग्रुप में जोड़ सके |


Hirendra Pratap Singh

ICICI BANK JANAKPURI C BLOCK NEW DELHI INDIA

Account Tpye - SAVINGS ACCOUNT

A/c No. 037801516691

IFSC - ICICI 0000378

Mantra Tantra Yantra Vigyan (MTYV Vishwa Vidyalaya)


Gurudev Dr. Narayan Dutt Shrimaliji

जय सदगुरुदेव


वेबसाइट से आपना पूरा पता नाम सहित डिटेल्स दे Register ..
https://mtyv.poweredindia.com/register/

वेबसाइट में आपना लॉग इन कर के साधना के बारे में रीड करे |
https://mtyv.poweredindia.com/

MTYV Vishwa Vidyalaya Admin Hirendra Pratap Singh




Link

Guru Sadhana News Update

Blogs Update